Sunday, 25 February 2018

नगमा

एक प्यार का नग़मा है, मौजों की रवानी है
ज़िंदगी और कुछ भी नहीं, तेरी मेरी कहानी है - (२)

कुछ पाकर खोना है, कुछ खोकर पाना है
जीवन का मतलब तो, आना और जाना है
दो पल के जीवन से, एक उम्र चुरानी है
ज़िंदगी और...

तू धार है नदिया की, मैं तेरा किनारा हूँ
तू मेरा सहारा है, मैं तेरा सहारा हूँ
आँखों में समंदर है, आशाओं का पानी है
ज़िंदगी और...

तूफ़ान तो आना है, आकर चले जाना है
बादल है ये कुछ पल का, छाकर ढल जाना है
परछाइंयाँ रह जातीं, रह जाती निशानी है
ज़िंदगी और...

जो दिल को तसल्ली दे, वो साज़ उठा लाओ
दम घुटने से पहले ही, आवाज़ उठा लाओ
खुशियों की तमन्ना है, अश्कों की रवानी है
ज़िंदगी और...

Thursday, 14 September 2017

हिंदी

भाषा में असली महत्व विचारों का होता है जैसे शरीर को वस्त्र की आवश्यकता होती है वैसे अच्छे विचारों को भाषा की आवश्यकता होती है इसलिए विचार और भाषा एक दूसरे के पूरक

Wednesday, 6 September 2017

किताबे vrs

डबवाली (  )शहर की सामाजिक संस्था virtuous क्लब इण्डिया द्वारा  आज डा. बी. आर. अम्बेडकर जन-जागृति मंच , मण्डी डबवाली द्वारा संचालित बच्चों के लिए डा BR अम्बेडकर  लाइब्रेरी के लिए क्लब सदसयो ने साहित्य ,मोटिवेशनल, और परीक्षा की तैयारियों की 100 किताबें भेंट स्वरूप दी इस अवसर पर  बच्चो के साथ किताबो का जीवन में महत्व पे चर्चा हुई PRO नरेश शर्मा ने बताया कि किताबे से हम सब को आत्मविश्वास  और लक्ष्यपूर्ति के लिए जीवन के पथ पर सहायक होती है दुनिया में जितनी अच्छी बातें है वो सब किताबो में दर्ज है बस उसे पढ़ कर अमल करने की जरूरत है  क्लब के बुक बैंक के प्रकल्प प्रमुख डॉ बीर चन्द गुप्ता ने कहा कि किताबे जीवन में उपहार स्वरूप देने की परम्परा  बनाई जाए शिक्षा का असली उद्देश्य मानव के व्यहवार में चेतना और विनम्रता है जिसे पा कर हर कोई मानवता के कल्याण हेतु कार्य कर सकता है  युवा वर्ग खाली समय में महान पुरषों की जीवनी पढे इस से उनके जीवन में नए उत्साह आएगा जोकि अच्छे राष्ट्र के निर्माण में अतुल्य योगदान होगा  विजय बांसल ने बच्चो को सन्देश देते हुए कहा कि आज बेटियों का शिक्षत होना बहुत जरूरी है क्योकि उनके शिक्षत होने से दो परिवार शिक्षत होंगे क्लब के संस्थापक केशव शर्मा ने कहा कि virtuous परिवार सदैव  मंच के साथ है आगामी माह में बच्चो को शेक्षणिक यात्रा हुसैनीवाला की करवाई जाएगी ताकि बच्चे शहीदों के जीवन से प्रेरणा ले सके इस अवसर पर मंच के कृष्ण कायत ने मंच संचालन करते virtuous परिवार का धन्यवाद किया इस अवसर पर प्रधान संजीव शाद जतिंदर खेरा अमित खरब बडा. बी. आर. अम्बेडकर जन - जागृति मंच , मण्डी डबवाली द्वारा संचालित
फिजिक्स प्रवक्ता भीम राज बाबा मंगलनाथ महाराजसुरेन्द्र बागडी उपस्थित थे

Wednesday, 16 August 2017

सत्य

राजा हरिशचन्द्र
इतिहास
का इक चरित्र ......
याद आया आज जब स्कुल की दीवार पे लिखा पढ़ा " सदा सच बोलो"
ये भी लिखना पड़ता है दीवारो पे
अफ़सोस....सीखना पड़ता
शायद
सच कड़वा होता है
मुश्किल
होता है
लेकिन सच परेशान हो सकता है
हारता नही
उग आता है
जीत सत्य की होती है
तो
सत्य बोलना इतना मुहाल था की इक दिन सूरज की जुबान पे छाले निकल गए
झूठ की चादर .....
चहेरे नही मुखोटे है  .......
और सत्य को परीक्षा देनी पड़ती
तभी कभी कोई कोई किरदार पैदा होता है
और कहानी बनता है
सुनना पढ़ना और बच्चों को बताना
की हरिशचन्द्र राजा से रंक और फिर कैसे इतिहास का सम्राट हो गया
क्योकि......
बादलो की तरह आवारा है दोस्तों
आवारगी ने हमे सवारा है दोस्तों
झूठ ने की 100 शादियाँ
फिर भी बे औलाद
सच के हज़ारो बेटे है
फिर भी कंवारा है दोस्तों.........

Sunday, 4 June 2017

V

mआज विश्व पर्यावण दिवस के अवसर पर virtuous क्लब इण्डिया की तरफ से स्थानीय नव प्रगति स्कुल में चल रहे दस दिवस के समर केम्प में पेड़ पर्यावरण और हम विषय पर सेमिनार करवाकर क्लब ने आपने प्रकल्प पेड़पोधा बैंक तहत 132 तुलसी के पौधे बच्चो को उपहार स्वरूप देकर उनको पेड़ मित्र बनाया गया और आह्वान भी किया वेअपने जन्म दिन वैवाहिक वर्षगांठ या बजुर्गो की पुण्य तिथि को याद में पेड़ भी लगाये या उपहार भी दे
क्लब संस्थापक केशव शर्मा ने कहा कि प्रदूषण समस्या हमारे जीवन में विकराल रूप ले चुका है  पेड़ो की कमी से अनोको अनेक बीमारियां फैल रही है  पोलोथिन मुक्त अभियान की भी आज जरूरत है ताकि स्वस्थ विश्व का निर्माण हो सके  क्लब प्रधान एवं रंगकर्मी संजीव शाद ने कहा कि पेड़ो को मित्र बन कर जीवन को सुखदायक बना सकता है उन्होंने कहा कि जिस दिन आखरी नदी सूख जायेगी जिस दिन आखरी मछली मर जायेगी जिस दिन आखरी पेड़ मिट जाएगा उस दिन जेब में पड़ा  रुपया किसी भी काम नही आएगा
मुख्य वक्ता डॉ बीर चन्द गुप्ता ने आपने वक्तव्य में कहा  ज्यो ज्यो मानव सभ्यता का विकास हो रहा त्यों पर्यावरण के प्रदूषण की मात्रा बढ़ती जा रही हैं मनुष्य की जीवन शैली क्रियाकलाप इसमें काफी हद तक जिमेवार है जल प्रदूषण वायु प्रदूषण ध्वनि प्रदूषण ने मानव जीवन के आधार को ही खत्म कर दिया पर्यावरण के प्रति  संयुक्त राष्ट्र के उस पत्र पर चिंता व्यक्त की 2050 में खाने पीने रहने आदि की मारामारी होगी और ग्लोवल वार्मिग से मानवजाति को बड़ा नुकसान होगा  इसके लिए आज के दिवस को एक आंदोलन और एक संकल्प के रूप में मना कर पेड़ लगाने होंगे  जिसका चिंतन करते 190 देशों ने पेरिस जलवायु सन्धि पर सहमति हस्ताक्षर कर दिए है ताकि आने वाला कल आने वाली पीढ़ी के लिए सुखदायक हो
वेद भारती जी ने कहा धरती हम सब के लिए कुदरत काअनुपम उपहार है इसलिए हम ने धरती को माँ का दर्जा दिया है कविता  मैं हूँ पेड़ बड़ा दुख आता है जब तुम मुझे बेदर्दी से काटते हो...छात्रा दीप्ती ने ताजगी की चाह में हम घुटते जा रहे है जीवनदायनी हवा को विषैला बना रहे है
सुन लो ओ दुनिया वालो फिर दिन हमारे वही आये आओ मिल कर फिर से पृथ्वी को गुलिस्ता बनाये छात्रा पूनम ने पर्यावरण के प्रति पेंटिग भी की इस अवसर पर विद्यालय परिवार ने ठंडे मीठे जल की छबील भी लगाई
प्रिंसिपल चंद्रकांता भारती सभी  ने बच्चो को कहा कि वृक्ष कबहू नही फल भखे नदी न सींचे नीर परमार्थ के कारने साधु धरा शरीर आओ समाज के प्रति सजग होकर दायत्व निभाए वे पौधों को सींचे इस अवसर पर अमित खरब सुमित भारती सुमित अनेजा ज्ञानी ज्ञान सिह केशव बांसल जसविंदर कौर  मंजूबाला मधु अंग्रेज सिह मेहन्द्र सिह और स्टाफ सदस्य हाजिर थे

Sunday, 7 May 2017

V

डबवाली virtuous परिवार की वार्षिक साधारण सभा महाराज पैलैस में  हुई जिसमें क्लब के मुख्य सलाकार आत्मा राम अरोड़ा ने virtuous परिवार के सदस्यों को अपना आशीर्वाद देते हुए कहा कि  समाज की सेवा तो  मन के भाव का कार्य है दयालु भाव हम सब के दिलो में इक संस्कार बन कर जन्म लेता है तभी मानवता की सेवा की और हाथ बढ़ते है
की समस्या के प्रति जागृत होना ही प्रगतिशील समाज की पहली सीढ़ी है  कला संस्कृति शिक्षा खेल स्वस्थ और समाज से में virtuous क्लब शहरवासियों के सहयोग से आपने दायत्व को निभा रहा है
कला कुंज के फ़नकारों ने माँ सरस्वती की आराधना से प्रोग्राम का आगाज किया  महान मरहूम शायर शिव कुमार बटालवी की पुण्य तिथि के अवसर पर गायक जसदीप सिह ने "रोग बन के रह गया प्यार तेरे शहर दा मैं मसीहा देखया बीमार तेरे शहर दा...... गीत गा कर श्रदा के भाव दिए वही क्लब के अनेको हास्य कवि समेलनो  के मंच पर  डबवाली के दर्शको के दिलो पे आपनी अमिट छाप छोड़ने वाले मरहूम हास्य कवि हरि सिंह दिलबर जी को याद करके सभी सदस्यों ने खड़े होकर दो मिनट का मौन धारण करके श्रदांजलि दी  क्लब के प्रधान सजीव शाद ने कहा कि दिलबर जी की हास्य व्यंग्य जीवन रूपी काव्य यात्रा  सदैव साहित्यक क्षेत्र में याद रखी जायेगी  क्योकि कवि की कलम शब्द और अर्थ समाज को नई दिशा देते है    virtuous परिवार इस वर्ष टैफिक नियम सेव फूड चोंच भर नीर छबील पेड़ मित्र ज्योति और स्माइल  स्पेट्स टूर्नामेंट प्रदूषण रहित दिवाली सेमिनार जैसे प्रकल्पों के माद्यम से जन जागरण अभियान चलाने का प्रयास करेगा
इस अवसर पे क्लब के नए सदस्य के रूप में पूर्व प्रिंसिपल सुरजीत मान परवीन सिंगल सुमित अनेजा मनोज शर्मा जी को शामिल किया गया और सभी नये आर्थिक सहायतार्थ सदस्यों का भी जोरदार स्वागत किया  गायक अनमोल साहिल सोनी गगन सोनी अजय गिल अंश सागर  ने गीत गा कर समय को यादगर बना दिया
संस्थापक केशव शर्मा ने क्लब की गतिविधियों के बारे में बताया जबकि आथितयो का स्वागत डॉ वीर चन्द गुप्ता ने किया  मंच संचालन सचिव सोनू बजाज ने बखूबी निभाया
सभी का धन्यवाद जीतेंद्र शर्मा ने किया इस अवसर पे क्लब  प्रबन्धक समिति  एवं सदस्य गण उपस्थित थे यह जानकारी क्लब pro वर रमेश सेठी ने दी

Monday, 3 April 2017

तुम

तुम
सिर्फ तुम
तुम को कभी देखा नही
वो भी नही
जिसको तुम समझते हो
तुम मेरी समझ से भी परे हो
तुम ही सृष्टि तुम ही दृष्टि
तुम ही राधा तुम मीरा
तुम ही भक्ति तुम ही शक्ति
तुम ही मन्दिर तुम मूरत
तुम जग में तुम जीवन में
तुम अगम अगोचर
तुम में प्रेम तुम प्रीतम
तुम में अंत तुम में आगाज
तुम ही रात तुम प्रभात
मैं से तू तक
का सफर 
मैं को खोया तुम को पाया
तुम ही
मंजिल
तुम ही
मुसाफिर ..........
तुम ही तुम को तुम से मिलने आया
तो बस ये ही समझ आया
खाली हाथ  तब तेरा साथ
उतना सफर आसान जितना कम समान
तो फिर अब

धड़कन दिल की संगीत हो

मरना यार के लिए इक प्रीत हो

तुम ही याद तुम ही फरियाद
सफर..............खत्म । shaad