Tuesday, 28 July 2015

वक्त.....

हा हा हा हा हा हा
अभी अभी इक विचार आया
वक्त भी कभी किसी का अच्छा होता है
हा हम को खुद का नहीं दूसरे का अच्छा दिखता
जरूर है  .........
इसलिए सोचते है
कभी तो अच्छा वक्त आयेगा
इक पंक्ति पढ़ी थी
की
ये वक्त भी गुजर जायेगा
और वक्त कभी नहीं गुजरता
बस
आदमी गुजर जाता है ।

No comments:

Post a Comment