Sunday, 26 July 2015

कहानी..

इक था राजा इक थी रानी .....
दोनों मर गए खत्म कहानी
बस ये दो लाइन
मतलब है
जिंदगी ........का
कहानी तो बस इतनी ही होती है
बचपन में सुनते थे
हर किसी की कोई ना कोई कहानी होती है कहानियों के पीछे भी की कहानियाँ छुपी होती है कहते है दिन को कहानी नही सुननी चाहिए क्योकि मामा घर का रास्ता भूल जाता है अब इसके पीछे भी कोई कहानी होगी ....
कहानियाँ चलती रहती है राजा और रानी मरती रहती है......

No comments:

Post a Comment